शिव चालीसा के फायदे – Benefits of Shiv Chalisa

6 Min Read
शिव चालीसा के फायदे - Benefits of Shiv Chalisa

शिव चालीसा के फायदे ( shiv chalisa ke fayde ) : हिंदू धर्म में भगवान शिव से की जाने वाली प्रार्थना को शिव चालीसा कहा जाता है। शिव चालीसा का पाठ करने से जीवन में कई प्रकार के सकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। माना जाता है कि सोमवार की शाम को शिव चालीसा का पाठ करना बेहद शुभकारी होता है। शिव चालीसा का पाठ करने से जीवन में कई अद्भुत बदलाव होते हैं जिससे व्यक्ति का जीवन सुखमय हो जाता है।

शिवजी की आराधना करने वाले लोगों को मृत्यु का भय नहीं सताता जिससे वे निडर रहते हैं। इसके अलावा महाशिवरात्रि पर शिव चालीसा का पाठ करने से सेहतमंद रहने में भी मदद मिलती है।

शिव चालीसा की महिमा एवं उसका महत्व

शिव चालीसा का पाठ करने से भगवान शिव की अपने भक्तों पर असीम कृपा रहती है जिससे उन्हें मनचाहे वरदान की प्राप्ति होती है। भगवान शिव का अनुसरण करने से जीवन की बाधाओं एवं कठिनाइयों को दूर किया जा सकता है। शिव पुराण के अनुसार शिव चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति के जीवन पर बेहद सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

शिव चालीसा के पाठ की विधि

प्रातः सुबह उठकर स्नान करके साफ कपड़े पहने उसके बाद अपना मुंह पूर्व दिशा में करके कुशा के आसन पर बैठे। शिवजी के पूजन में चावल, कलावा, सफेद चंदन, शुद्ध मिश्री, धूप-दीप पीले फूलों की माला एवं सफेद आक 11 में फूल को प्रसाद के रूप में रखना चाहिए। इसके बाद पाठ शुरू करने से पूर्व गाय के घी का दीपक जलाएं एवं एक लोटे में शुद्ध जल भर कर रखें। इसके बाद शिव चालीसा का पूर्ण भक्ति भाव से बोल-बोल कर 3 या 5 बार पाठ करें। पाठ पूरा हो जाने के बाद लोटे के पानी को सारे घर में छिड़क दें उसके बाद थोड़ा सा जल स्वयं पी कर मिश्री को प्रसाद के रूप में खाएं और परिवार के सदस्यों में भी बांट दें।

शिव चालीसा के फायदे ( Benefits of Shiv Chalisa in hindi )

  • शिव चालीसा का नियमित रूप से पाठ करने से लड़कियों को मनचाहा वर मिलता है। इसके अलावा शिव चालीसा का जाप करने से वैवाहिक जीवन में आने वाली समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है। ऐसा माना जाता है कि शिव चालीसा का पाठ करने से वैवाहिक रिश्ते में आने वाली परेशानियां दूर होती हैं जिससे वैवाहिक जीवन सुखमय व्यतीत होता है।
  • शिव चालीसा का पाठ करने से तनाव एवं अवसाद की समस्या से छुटकारा मिलता है। शिव चालीसा का जाप करने से मन को शांति मिलती है जिससे तनाव व अवसाद की समस्या से जूझ रहे लोगों को बहुत फायदा मिलता है। इसके अलावा, शिव चालीसा का पाठ करने से मानसिक बीमारियों खतरों से भी बचा जा सकता है।
  • पूरे विधि विधान के अनुसार शिव चालीसा का पाठ करने से अकाल मृत्यु की संभावना नहीं रहती। शिव पुराण के अनुसार शिव चालीसा का जाप करने से समय से पहले एवं दर्दनाक मृत्यु नहीं होती जिससे व्यक्ति का जीवन लंबा एवं सुखद होता है।
  • शिव चालीसा का जाप करने एवं सुनने से बच्चों को स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं नहीं होती जिससे उनका जीवन सुखमय व्यतीत होता है। माना जाता है कि बच्चों पर भगवान शिव की बच्चों पर असीम कृपा रहती है। शिव चालीसा को माता पिता अपने बच्चों की ओर से भी पढ़ सकते हैं।
  • शिव चालीसा का पाठ करने से संतान की प्राप्ति होती है जिससे निसंतान दंपतियों को बहुत लाभ मिलता है। निसंतान दंपति को “पुत्र हीन कर इच्छा कोई। निश्चय शिव प्रसाद तेहि होई॥” मंत्र का जाप करना चाहिए जिससे उन्हें जल्द ही संतान की प्राप्ति हो जाती है।
  • ऐसा माना जाता है कि शिव चालीसा का नियमित रूप से जाप करने से धन की प्राप्ति होती है। घर में नकारात्मक ऊर्जा होने के कारण अक्सर कई लोगों को धनहानि जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में शिव चालीसा का पाठ करने से निर्धन लोगों को बहुत लाभ मिलता है। आर्थिक समस्या से जूझ रहे लोगों को “धन निर्धन को देत सदाहीं। जो कोई जांचे वो फल पाहीं॥” का उच्चारण करने से बहुत लाभ मिलता है।
  • शिव चालीसा का पाठ करने से पुराने कर्ज से मुक्ति मिलती है। पूर्ण विधि-विधान के अनुसार शिव चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति के जीवन में कई सकारात्मक एवं सुखद बदलाव होते हैं। कर्ज की परेशानी का सामना कर रहे लोगों को “ॠनिया जो कोई हो अधिकारी। पाठ करे सो पावन हारी॥” मंत्र का जाप करना चाहिए।

Trending on Internet

Share this Article