अचानक वजन कम होने के कारण और उपाय

9 Min Read
अचानक वजन कम होने के कारण और उपाय

अचानक वजन कम होने के कारण और उपाय ( achanak vajan kam hone ke karan aur upay ) : जानें अचानक वजन कम होने के कारण और उपाय, वजन में उतार-चढ़ाव होना सामान्य है क्योंकि ज्यादा खाने से वजन बढ़ सकता है वहीं डाइटिंग या वर्कआउट करने से वजन घट भी सकता है। लेकिन अगर आपका वजन बिना डाइटिंग और बिना वर्कआउट के अचानक से घटना प्रारंभ हो गया है, तो आपको इस पर ध्यान देने की जरूरत है।

दरअसल डॉक्टरों के अनुसार, बिना जिम जाए और बिना खानपान में बदलाव किए, वजन का अचानक से कम होना सामान्य नहीं है, यह किसी शारीरिक गंभीर बीमारी का संकेत भी हो सकता हैं। जिसे नजरअंदाज करना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है इसलिए अचानक वजन कम होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

आज हम अपने इस आर्टिकल में आपको बताएंगे कि अचानक वजन कम होने के पीछे क्या कारण शामिल हैं। आइए विस्तार में जाने हमारे इस आर्टिकल से अचानक वजन कम होने के कारण और उपाय के बारे में।

अचानक वजन कम होने के कारण ( Sudden weight loss causes and remedies in hindi )

शुगर

जब शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने लगता हैं तो इसका परिणाम अचानक वजन घटने के रूप में देखा जा सकता है। अगर व्यक्ति में वजन घटने के साथ थकान, तनाव, लगातार पेशाब आना, सिरदर्द, आंखों की रोशनी धुंधली होना, ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ होना और बार-बार प्यास लगना जैसे लक्षण दिखें तो यह डायबिटीज के शुरूआती लक्षण हो सकते हैं। जानें – शुगर में कलौंजी के फायदे और शुगर में सिंघाड़ा खाने के फायदे और नुकसान

कैंसर

अचानक से वजन का कम होना कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का संकेत भी हो सकता है। अगर व्यक्ति में अचानक से वजन घटने के साथ दिनभर थकान महसूस होना, रात में पसीना आना, त्वचा में परिवर्तन होना, मांसपेशियों और जोड़ों में बेवजह दर्द होना जैसे लक्षण दिखाई दें तो यह कैंसर के लक्षण हो सकते हैं इसलिए अगर वजन तेज़ी से कम होता है तो इसे नजरअंदाज न करें और सीधे डॉक्टर से संपर्क करें।

हाइपो इफेक्ट थायराइड

अचानक वजन कम होने का एक अहम कारण हाइपोथाइरॉयड बीमारी भी हैं। अगर किसी व्यक्ति में तेज़ी से वजन कम होने के साथ थकान, सिरदर्द, बार-बार भूख लगाना, ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होना जैसे लक्षण दिखें तो यह हाइपोथाइरॉयड के लक्षण हो सकते हैं। लेकिन कई बार हाइपोथाइरॉयड के मरीजों में अचानक वजन घटने के बदले उनका वजन काफी तेज़ी से बढ़ने लगता हैं।

जानें थायराइड के घरेलू उपचार

कुछ विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन

कई बार कुछ विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन और उनका साइड इफेक्ट, मरीज की भूख को कम कर देता हैं, जिस कारण व्यक्ति का वजन अचानक कम होने लगता हैं। इसके अलावा नशे की लत भी अचानक वजन कम होने का कारण बनती हैं।

डिप्रेशन या तनाव

डिप्रेशन, व्यक्ति को उदास, परेशान और चिड़चिड़ा बना देता हैं। जिसका परिणाम अचानक वजन घटने के रूप में देखा जा सकता है। अगर व्यक्ति का वजन कम होने के साथ व्यक्ति ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ हैं, कम या ज्यादा सोने लगता हैं, नकारात्मक विचारों को सोचता हैं, निराशा की भावना और लाचारी महसूस करता है, तो यह लक्षण डिप्रेशन के हो सकते हैं, जिनको नजरअंदाज करना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता हैं। जानें 8 तनाव कम करने वाले अद्भुत खाद्य पदार्थ

एनीमिया

शरीर में खून की कमी के कारण एनीमिया (रक्ताल्पता) रोग होता हैं। दरअसल शरीर आयरन की कमी खून की कमी कारण बनती हैं, जिस कारण एनीमिया से पीड़ित रोगियों में भूख की कमी होने लगती है और मरीज का वजन कम होने लगता हैं।

एचआईवी या एड्स

एचआईवी यौन संक्रमित बीमारी है, असुरक्षित शारीरिक संबंध इस बीमारी को जन्म दे सकते हैं। इसके अलावा यह बीमारी पीड़ित व्यक्ति के शारीरिक द्रव के संपर्क में आने से भी हो सकती हैं। अगर किसी व्यक्ति में बुखार, सिर में दर्द, लगातार थकान, त्वचा पर निशान, सोते समय पसीना आने जैसे लक्षणों के साथ लगातार वजन घटने जैसे लक्षण दिखाई दे तो यह एड्स के लक्षण हैं इसलिए अचानक वजन कम होने को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें।

टीबी यानी ट्यूबरकुलोसिस

टीबी रोग को तपेदिक, क्षय और यक्षमा जैसे कई नामों से जाना जाता है, टीबी रोग एक आम और कई मामलों में घातक संक्रामक बीमारी है, जो ट्यूबरकुलोसिस नामक बैक्टीरिया के कारण होती हैं। टीबी रोग आम तौर पर फेफड़ों पर हमला करता है, मगर धीरे धीरे यह शरीर के अन्य भागों को प्रभावित करने लगता है। फेफड़ों के अलावा ब्रेन, लिवर, किडनी, गले और मुंह आदि में भी टीबी हो सकती है। इसके मुख्य लक्षण लगातार खांसी आना, सीने में दर्द होना, रात में सोते समय पसीना आना और थकान महसूस होने के साथ तेज़ी से वजन का घटना भी शामिल हैं।

आंतों की बीमारी

अगर किसी व्यक्ति को पेट और आंतों से जुड़ी बीमारियां होने लगती हैं तो इसका परिणाम अचानक वजन घटने के रूप में देखा जा सकता हैं। अगर व्यक्ति में अचानक वजन कम होने के साथ पेट में दर्द होना, बार-बार उल्टी होना, जी मिचलाना, भूख न लगना, पेट साफ़ ना होना, कमजोरी या थकान महसूस करना जैसे लक्षण दिखें तो यह पेट एवं आंतों से जुड़ी बीमारी के लक्षण हैं।

हार्मोन संबंधी विकार

जब आपके हार्मोन का संतुलन खराब हो जाता है, तो आपके शरीर का कोई विशेष हार्मोन या तो बहुत कम हो जाता है या बहुत अधिक हो जाता है, इस स्थिति को हार्मोन असंतुलन (हार्मोनल इम्बैलेंस) कहा जाता हैं, जो कई शारीरिक बीमारियों को जन्म दे सकता है, जिसका परिणाम अचानक से वजन कम होने के रूप में भी देखा जा सकता हैं।

मानसिक रूप से अस्वस्थ

व्यक्ति का मानसिक रूप से कमजोर होना या अस्वस्थ होना, तेजी से वजन कम होने का एक कारण है। यदि कोई व्यक्ति मानसिक रोग से ग्रस्त हैं और उस व्यक्ति का इलाज चल रहा हो तो भी ऐसे व्यक्ति का वजन या तो तेजी से बढ़ने लगता है या फिर तेज़ी कम होने लगता है।

लिवर

लिवर से जुड़ी बीमारियां भी तेजी से वजन कम होने का कारण बनती हैं, लीवर का कार्य भोजन को अच्छे से पचाने और शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालने का होता है इसलिए लिवर में गड़बड़ होने से यह प्रक्रिया सबसे पहले बाधित होती है। लिवर से जुड़ी बीमारियों में व्यक्ति का खानपान सबसे ज्यादा प्रभावित होता है, जिस कारण मरीज का वजन अचानक कम होने लगता है।

जानें हार्ट अटैक का मुख्य कारण क्या है और उपाय

आवश्यक सूचना

अगर किसी व्यक्ति का अचानक वजन कम होने लगे और उस व्यक्ति को अपने अचानक वजन कम होने का कारण भी समझ न आएं, तो वह व्यक्ति जल्द ही डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि जितनी जल्दी अचानक वजन कम होने के कारणों का पता चलेगा, उतना ही जल्दी इलाज भी हो जायेगा इसलिए अचानक वजन कम होने पर इसे नज़रअंदाज़ न करें।

जानें डाबर महायोगराज गुग्गुल के फायदे – Dabur Mahayograj Guggulu

Author Profile

Sumit Raghav
Sumit Raghav
I'm, your guide through the fascinating worlds of entertainment and health. With a passion for staying in-the-know about the latest happenings in the entertainment industry and a dedication to promoting well-being, I bring you a unique blend of articles that are both informative and entertaining.

Share this Article