ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने के फायदे

8 Min Read
ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने के फायदे

ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने के फायदे ( green tea me nimbu dalkar peene ke fayde ) : ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने के फायदे कई है। ग्रीन टी कैमेलिया साइनेन्सिस नामक पौधे की पत्तियों से बनाई जाती है, कैमेलिया साइनेन्सिस की पत्तियों का रंग हरा होने के कारण इससे बनाई जाने वाली चाय का रंग भी हरा होता है।

ग्रीन टी में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो शरीर को स्वस्थ रखने में बेहद लाभदायक होते है। ग्रीन टी में नींबू डालकर पीन से यह ग्रीन टी के गुणों को और अधिक बढ़ा देता है। ग्रीन टी में नींबू डालकर पीना शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में नींबू डालकर उसका स्वाद और गुण दोगुने हो जाते है इसलिए अधिकांशतः ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने की सलाह दी जाती है।

ग्रीन टी पीने का सही तरीका

ग्रीन टी आवश्यकता से अधिक पीना स्वास्थ्य के हानिकारक हो सकता है इसलिए इसे उचित मात्रा में ही पीएं। ग्रीन टी पीना सुबह नाश्ते के बाद या दोपहर के खाने के बाद पीना बेहद लाभदायक होता है। सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है इसलिए ग्रीन टी को खाली पेट पीने से बचे। ग्रीन टी में नींबू मिलाकर ही पीना बेहतर माना जाता है, नींबू के अलावा ग्रीन टी में शहद मिलाकर पिया जा सकता है। किसी रोग का एलर्जी के इलाज के दौरान ग्रीन टी पीने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

ग्रीन टी में पाए जाने वाले पोषक तत्व

ग्रीन टी में जल, एनर्जी, प्रोटीन, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर, मैंगनीज, सोडियम, जिंक, थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, विटामिन बी6, कैफीन जैसे पोषक तत्व पाए जाते है।

ग्रीन टी के प्रकार

जैस्मीन ग्रीन-टी, मोरक्को मिंट ग्रीन-टी, गेन माचा ग्रीन-टी, ड्रैगन वेल ग्रीन-टी, हौजीचा ग्रीन-टी, कुकीचा ग्रीन-टी, सेन्चा ग्रीन-टी, ग्योकुरो ग्रीन-टी, बिलोचन ग्रीन-टी, माचा ग्रीन-टी ये सभी ग्रीन टी के प्रकार है।

ग्रीन टी बनाने के विधि

  1. टी बैग वाली ग्रीन टी बनाने के लिए एक कप गर्म पानी में एक ग्रीन टी बैग डालें और इसे 1 या 2 मिनट तक भिगोने रख दें। उसके बाद इस टी बैग को गर्म पानी से निकाल लें और बनी हुई ग्रीन टी में थोड़ा नींबू का रस मिलाकर इसे पीए।
  2. पत्ते वाली ग्रीन टी बनाने के लिए ग्रीन टी पत्ते, चाय की छन्नी, एक गिलास गर्म पानी लेलें। अब सबसे पहले एक गिलास में छन्नी रखकर उसमें ग्रीन टी के पत्ते रखें और ऊपर से गर्म पानी डालें। ग्रीन टी के पत्तों के ऊपर गर्म पानी डालते रहे और पत्तों को हल्के-हल्के दबाते रहे। ग्रीन टी के पत्तों के ऊपर डालें हुए पानी का रंग बदल जाएगा जिससे ग्रीन टी बन जाएगी। अब ग्रीन टी में नींबू डालकर इसे पी सकते है।

ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने के फायदे (Benefits of drinking lemon in Green tea in hindi)

  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीना वजन को कम करने में बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी और नींबू में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते है जो शरीर में मेटाबॉलिज्म को बढ़ने में मदद करते है। कई अध्ययनों के अनुसार जो लोग ग्रीन टी में नींबू डालकर पीते है उनका वजन अन्य लोगों की अपेक्षा बहुत जल्दी घटने लगता है जिससे वे सुंदर एवं आकर्षित दिखाई देते है।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से सिरदर्द की समस्या को ठीक किया जा सकता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते है जो सिरदर्द से आराम दिलाने में मदद करते है। जिन लोगों को सिरदर्द की समस्या होती है वे लोग रोजाना दिन में एक बार ग्रीन टी में नींबू डालकर पिएं ऐसा करने से सिरदर्द ठीक हो जाएगा।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से रक्तचाप यानी ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है। ग्रीन टी में मौजूद पोषक तत्व रक्तचाप को नियंत्रित करके इससे होने वाली समस्याओं को कम करने में बेहद फायदेमंद होते है।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से यह मुँह के संक्रमणों से सुरक्षा करने में बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में एंटी बैक्टीरियल और नींबू में विटामिन सी पाया जाता है जो मुँह से संबंधित विभिन्न रोगों को ठीक करने में मदद करते है। ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से यह मसूड़ों एवं दांतों से संबंधित समस्याओं से सुरक्षा करने में मदद करते है। रोजाना ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से मुँह के कैंसर जैसे घातक रोगों से भी बचा जा सकता है।
  • ग्रीन में नींबू डालकर पीने से यह शरीर को इम्युनिटी प्रदान करने में बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में नींबू डालकर पीना शरीर के लिए इम्युनिटी बूस्टर के रूप में कार्य करता है। रोजाना ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से शरीर की इम्युनिटी बढ़ जाती है जिससे शरीर अधिक थकान महसूस नहीं होती है और  तंदुरुस्त रहता है।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है। रोजाना ग्रीन टी पीने से यह बैक्टीरिया एवं संक्रमण से आने वाले बुखार से सुरक्षा करने में मदद करता है। ग्रीन टी एक डिटॉक्सीफाइंग ड्रिंक है जो कई तरह के रोगों से सुरक्षा करके शरीर को स्वस्थ्य रखने में मदद करता है। साधारण फ्लू, खांसी, जुकाम आदि की समस्या को ठीक करने के लिए भी रोजाना उचित मात्रा में ग्रीन टी पीना बेहद फायदेमंद होता है।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीना त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में ऐसे बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो त्वचा को चमकदार, मुलायम और स्वस्थ रखने में मदद करते है। इसके अलावा नींबू में पाया जाने वाला विटामिन सी भी त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी में नींबू डालकर पीने से यह त्वचा को स्वस्थ बनाने के साथ-साथ त्वचा को प्राकृतिक सुंदरता प्रदान करने में मदद करता है।
  • ग्रीन टी में नींबू डालकर पीना मस्तिष्क के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ग्रीन टी और नींबू में ऐसे बहुत से पोषक तत्व मौजूद होते है जो दिमाग को शांत रखने और तनाव मुक्त करने में मदद करते है। रोजाना ग्रीन टी में नींबू मिलाकर पीने से तनाव एवं अवसाद की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। ग्रीन टी पीने से यह दिमाग को शांत रखने के साथ दिमाग की कार्यक्षमता में भी वृद्धि करने में मदद करता है।

जानें ग्रीन टी के फायदे और नुकसान – Green Tea और नींबू के फायदे और नुकसान

Trending on Internet

Share this Article