महिलाओं में चेहरे पर बाल आने के कारण और उपाय

8 Min Read
महिलाओं में चेहरे पर बाल आने के कारण और उपाय

महिलाओं में चेहरे पर बाल आने के कारण और उपाय ( mahilaon mein chehre par baal aane ke karan aur upay ) : महिलाओं के चेहरे पर बाल आना एक सामान्य बात हैं, लेकिन बहुत ज्यादा बाल होने से कई महिलाओं में आत्म-चेतना की भावना आ जाती है। महिलाओं के चेहरे पर बाल आने से किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता, लेकिन इन बालों की वजह से महिलाओं की खूबसूरती पर असर पड़ता है।

पुरुषों की तरह महिलाओं में भी चेहरे पर बाल (फेशियल हेयर) होना एक सामान्य बात है, क्योंकि हमारे शरीर की त्वचा पर सभी जगह हेयर फॉलिकल्स होते हैं लेकिन सभी महिलाओं के त्वचा पर बालों का विकास अलग-अलग तरीके से होता है। कुछ महिलाओं के चेहरे पर बेहद पतले और बारीक बाल होते हैं, वहीं दूसरी महिलाओं में बालों का विकास बेहद घना होता है।

महिलाओं के चेहरे और शरीर पर अत्यधिक बालों के उगने की इस समस्या को मेडिकल टर्म में हिर्सुटिस्म (Hirsutism) कहा जाता हैं। आमतौर पर महिलाओं के शरीर में उगने वाले बालों की बनावट बेहद बारीक होती है और उनका रंग भी बेहद हल्का रहता है लेकिन हर्सुटिज्म की समस्या से ग्रसित महिलाओं के शरीर में मौजूद बाल बहुत घने, मोटे और गहरे रंग के होते हैं।

ये बाल महिलाओं की ठुड्डी पर, साइड बर्न्स यानी कलम की जगह पर, छाती पर, निप्पल्स के आसपास, पेट पर, पीठ के ऊपरी और निचले हिस्से पर, जांघ के अंदरूनी हिस्सों में हो सकते हैं। आइए विस्तार में जाने हमारे इस आर्टिकल से महिलाओं के चेहरे पर बाल आने के कारण हैं और उपाय के बारे में, जिनका उपयोग कर, महिलाएं इन अनचाहे बालों से छुटकारा पा सकती हैं।

महिलाओं के चेहरे पर बाल आने के कारण

  1. अनुवांशिक कारण यानी अगर आपके परिवार में आपकी मां, दादी के चेहरे पर अनावश्यक बालों की समस्या है, तो आपको भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  2. महिलाओं के चेहरे पर बाल आने का कारण पीसीओएस या पीसीओडी बीमारी भी हो सकती है। पीसीओडी एक ऐसी बीमारी है जो आजकल महिलाओं में बेहद ही आम पाई जाती है। पीसीओडी में, हार्मोनल असंतुलन के कारण ओवरी में छोटी-छोटी गांठ बन जाती हैं, जिससे शरीर में मेल हार्मोन की मात्रा बढ़ने लगती है। जिस कारण चेहरे पर मुंहासे और अनचाहे व अतिरिक्त बाल उगने लगते हैं।
  3.  कई बार कुछ विशेष प्रकार की दवाओं जैसे एंडोमेट्रियोसिस के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाइयां, मांसपेशियों को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होने वाले ऐनाबोलिक स्टेरॉयड्स दवाइयां और मल्टीपल इन्फ्लेमेशन के इलाज में इस्तेमाल होने वाले ग्लुकोकौरटिकौडस दवाओं का सेवन करने से महिलाओं के शरीर में अनचाहे बालों का विकास होने लगता है।
  4. जब महिलाओं के शरीर में कॉर्टिसोल नामक हार्मोन यानी स्ट्रेस हार्मोन का स्तर जरूरत से ज्यादा बढ़ जाता है, तो चेहरे पर तेजी से बाल उगने शुरू हो जाते हैं, जिसके साथ-साथ चिड़चिड़ापन, असामान्य रूप से वजन बढ़ना, हाई बीपी, मांसपेशियों और हड्डियों का कमजोर होना और शरीर पर जहां तहां नील पड़ने जैसी कई शारीरिक समस्याएं होने लगती हैं।
  5. महिलाओं के शरीर में एन्जाइम की कमी के कारण मेल हार्मोन टेस्टोस्टेरॉन की शरीर में अधिकता होने लगती हैं, जिस कारण चेहरे पर तेजी से बाल उगने शुरू हो जाते हैं।
  6.  मेनोपॉज के बाद महिलाओं के शरीर में कई तरह के हार्मोंस बदलाव होते हैं, जिस कारण चेहरे पर अनचाहे बाल उगने लगते हैं। इसके अलावा महिलाओं में अधिक जंक फूड खाने की आदत, हार्मोन में असंतुलन पैदा करती हैं, जिस कारण कई बार चेहरे पर अनचाहे बाल उगने लगते हैं।

चेहरे के अनचाहे बाल हटाने के उपाय 

थ्रेडिंग

थ्रेडिंग के जरिए अनचाहे बालों को हटाया जा सकता है। इसमें एक खास तरह के कॉटन धागे की मदद से अनचाहे बालों को एक-एक कर प्लकिंग के जरिए हटाया जाता हैं। इसके लिए आप पार्लर में जाकर थ्रेडिंग के जरिए अपने चेहरे के अनचाहे बालों को हटा सकती हैं।

वैक्सिंग

वैक्सिंग की मदद से भी चेहरे के अनचाहे बाल हटाए जा सकते हैं। आप चाहें तो घर पर ही वैक्सिंग की मदद से चेहरे के अनचाहे बाल हटा सकती हैं या पार्लर में जाकर भी वैक्सिंग कर सकती हैं। गर्म वैक्स की जगह आप वैक्सिंग स्ट्रिप का इस्तेमाल कर सकती हैं। यह ज्यादा आसान होगा।

प्लकिंग

आप प्लकर की मदद से आइब्रो, अपर लिप और ठुड्डी के पास के अतिरिक्त बालों को हटा सकती हैं। लेकिन आपके चेहरे पर अनचाहे बालों की ग्रोथ अधिक हैं तो उसमें प्लकिंग की प्रक्रिया कार्य नहीं करेगी।

शेविंग

रेजर का इस्तेमाल कर, आप अपने चेहरे के अनचाहे बालों को हटा सकती हैं। शेविंग के बाद चेहरे को पानी से साफ कर, मॉइश्चराइजर लगा लें।

क्रीम

बिना किसी दर्द के चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने का सबसे अच्छा और आसान तरीका यह है कि आप डेपिलेटरी क्रीम इस्तेमाल करें। इसके लिए आप क्रीम को बाल हटाने वाली जगह पर लगाकर 5-10 मिनट के लिए लगा रहने दें। फिर स्पैटुला की मदद से क्रीम के साथ बालों को भी हटा दें।

ब्लीचिंग

ब्लीचिंग करने से चेहरे पर मौजूद अतिरिक्त बाल हटते नहीं हैं लेकिन उनका रंग हल्का हो जाता है, जिस कारण वे कम नजर आते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि किसी भी तरह की ब्लीच को सीधे चेहरे पर लगाने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें ।

इलेक्ट्रोलिसिस और लेजर ट्रीटमेंट

इलेक्ट्रोलिसिस ट्रीटमेंट में डॉक्टर हेयर फॉलिकल्स के बीच से बिजली के करंट को दौड़ाते हैं, जिससे बालों को नुकसान पहुंचता है और वे दोबारा उग नहीं पाते। लेजर ट्रीटमेंट के दौरान डॉक्टर लेजर लाइट की मदद से हेयर फॉलिकल्स को डैमेज करते हैं, ऐसा करने से बालों की ग्रोथ कम हो जाती है।

अनचाहे बाल हटाते समय इन विशेष बातों का ध्यान रखें –

  1. हॉट वैक्स का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखें कि त्वचा उसे सह पाएं। ज्यादा गर्म वैक्स का इस्तेमाल करने से त्वचा जल सकती है।
  2. शेविंग करते समय ध्यान रखें कि आपका रेजर नया हो। पुराने या जंग वाले रेजर का इस्तेमाल करने से त्वचा पर इंफेक्शन हो सकता है।
  3. शेविंग करने से त्वचा रूखी होने लगती है इसलिए शेविंग के तुरंत बाद त्वचा पर मॉइस्चराइजर लगाएं।
  4. बालों के उगने की विपरीत दिशा में शेविंग न करें, वरना ऐसा करने से त्वचा के अंदर उगने वाले इनग्रोन हेयर की समस्या हो सकती हैं।

जानें पीरियड्स नहीं आने के कारण और उपाय

Author Profile

Sumit Raghav
Sumit Raghav
I'm, your guide through the fascinating worlds of entertainment and health. With a passion for staying in-the-know about the latest happenings in the entertainment industry and a dedication to promoting well-being, I bring you a unique blend of articles that are both informative and entertaining.

Share this Article